-->

Care Women's

Health and Personal care

Sunday, June 11, 2017

अपने बच्चे में आत्मसम्मान कैसे boost करें ?

Boost Self Esteem In Your Child

जब आपका बच्चा खुद के बारे में अच्छा feel करता है या फिर नही करता, तब कभी- कभी उन्हें नोटिस करना हमारे लिए आसान होता है | हम अक्सर खुद के self steem को बूस्ट करने की कोशिश करते रहते हैं और करना भी चाहिए लेकिन आप इस बात का ज़रूर ध्यान दें कि आपको अपने बच्चे के self esteem(आत्मसम्मान) को भी boost करना है |

क्या आपने अपने 'बच्चे में self esteem को boost' करने की कोशिश की है ? अगर नही किये हैं तो यह  article आपके लिए है | कैसे आपको अपने बच्चे में self eesteem boost  करना है ? और क्यों करना है ? यह जानने के लिए  इस article को ज़रूर पूरा पढ़ें |

also read this : 10 Best Parenting Tips in Hindi / 10 Best Parenting Tips जानिए हिंदी में 

    Is your child ready for cell phone in hindi ? / क्या आपका child cellphone के लिए तैयार है ?

बच्चों में self esteem को boost करने की क्यों ज़रूरत है ?

जब बच्चों में self esteem ( आत्मसम्मान) होता है तो वह खुद के बारे में अच्छा feel करते हैं, और खुद को success पाने के लिए तैयार करते हैं | बच्चे के  अन्दर यह आत्मसम्मान उनकी life में आने वाली सभी चुनौतियों का सामना करने , अपनी गलतियों से निपटने में मदद करता है | self esteem से बच्चे अपनी क्षमताओं और उपलब्धियों पर गर्व करते हैं जिससे उन्हें अपना best अनुभव मिलता है |

वही दूसरी तरफ अगर बच्चे में self esteem नही होता है तो वह खुद को हर क्षेत्र में कमजोर feel करते हैं, किसी भी activity में participate करने से डरते हैं, उन्हें ऐसा feel होता है कि कोई भी उन्हें accept नही करता हैं, उन्हें खुद में बहुत कमियां नज़र आती हैं, और इस तरह बच्चे खुद के लिए एक कठोर समय तैयार करते हैं | 

strong self esteem वाले बच्चे अक्सर :

  • value feel करते हैं 
  • वे अपने कामों पर confindent होते हैं 
  • खुद के बारे हमेशा अच्छी बाते सोचते हैं 
  • खुद के द्वारा  किये हुए अच्छे कामों पर गर्व महसूस करते हैं 
  • अपने life में आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं 

low self esteem वाले बच्चे अक्सर :

  • low self esteem वाले बच्चे खुद को critical feel करते हैं 
  • confidence की कमी होती है 
  • खुद को insecure feel करते हैं
  • उन्हें अपनी abilitiy पर शक होता है कि वह कोई काम अच्छे से कर पाएंगे या नही 
कम आत्मसम्मान होने की वजह से बच्चे अपनी सफलताओं को रोक सकते हैं और हर रोज़ life में  आने वाली चुनौतियों का  सामना करने से घबरा सकते हैं |

also read this : Healthy Tiffin Ideas बच्चों के लिए 

बच्चों में self esteem कैसे boost किया जाये ?

कुछ लोग सोचते हैं कि जब  बच्चों को wonderful , great या special कहा जाता है या फिर तब  जब बच्चे को कोई tropfy दी  जाती है, तो ज़रूरी नही कि बच्चे आत्मसम्मान feel करते हों | यह बच्चे को अच्छा feel करने के लिए किया जाता है लेकिन हम तब तक नही कह सकते की बच्चा के अन्दर आत्मसम्मान है जबतक वह खुद के लिए आत्मसम्मान feel नही करता |

self esteem वह रिजल्ट होता है जो बच्चे को capable, accepted और effective बनाने में help करता है |
  • जब बच्चे खुद से खुच चीज़े सीखते हैं और वे क्या कर सकते हैं , उस पर गर्व feel करते हैं तब बच्चे खुद को सक्षम महसूस करते हैं |
  • जब parents के द्वारा या फिर किसी और के द्वारा उनकी सराहना की जाती है तो बच्चे खुद को accept करते हैं और अच्छा feel करते हैं क्योंकि उन्हें पता होता है कि parents अच्छे behavior की सराहना करते हैं |
  • जब बच्चे किसी अच्छी चीज़ को पाने के लिए कड़ी मेहनत  करते हैं  और खुद को अपने लक्ष्य तक पहुँचता देखते हैं तो बच्चे खुद को effective महसूस करते हैं |

parents द्वारा बच्चों में self esteem boost कैसे किया जाये ?

हम सभी बेहतर जानते हैं की समय के साथ आत्मसम्मान boost होता है अगर आत्मसम्मान में कमी हो तो , छोटी-छोटी कोशिशों से आप  अपने बच्चे में self esteem boost कर सकते हैं -
  • उम्र के हर पड़ाव में बच्चे कुछ नई चीज़े को जानने की  कोशिश करते हैं , और उन्हें सिखने की कोशिश करते हैं ,तब उस समय आपको अपने बच्चों के कामों में help करनी चाहिए और उन्हें encourage करना चाहिए | क्योंकि बच्चों में  self esteem boost करने का यही सही समय होता है |
  • जब आपका बच्चा कोई नई काम करे या सीखे तो आप उनकी help करें फिर चाहे वह गलती ही क्यों न कर रहे हों | आपको सुनिश्चित करना है, कि आपके बच्चे के लिए उन्हें गर्व feel करने के लिए बहुत अवसर हैं |
  • बच्चों की तारीफ करें , लेकिन तारीफ आपको समझदारी से करना होगा , क्योंकि प्रशंसा करने के अलग अलग तरीके हैं | क्योनी research से पता चला है कि बच्चों की प्रशंसा करने से कुछ उल्टे रिजल्ट भी मिल सकते हैं | आपको अति प्रशंसा से दूर रहना चाहिए | example के लिए अगर आप बच्चे के किसी खेल की तारीफ करते हैं कि वह बहुत महान खेला था जबकि आपका बच्चा जनता है कि वह अच्छा नही खेला , तो  इससे बच्चे के अन्दर बुरा effect पड़ सकता है | आपको अपने बच्चे से ऐसा कहना चाहिए कि "मुझे पता  है कि तुम्हारा यह बेस्ट performance नही है लेकिन तुम्हारे पास और भी अवसर हैं | और मुझे तुम पर गर्व है कि तुम give up नही करोगे |" ऐसा कहने से आपके 'बच्चे में self esteem boost' होने लगेगा |

  • अपने बच्चों के लिए एक अच्छे role model बनिए जब आप अपना daily routine काम करते हैं तो बच्चे आपको देखकर सिखने की कोशिश करते हैं | लेकिन अगर आप एक अच्छे role model नही है जैसे कोई काम करने से बचना , तो यह  करने से आप अपने बच्चे को भी ऐसा करना सिखाते हैं | 

  • बच्चों की कठोर आलोचना अकरने से खुद को रोके, क्योंकि जब आप अपने बच्चे से कहते हैं कि "तुम बहुत आलसी हों " तो ऐसा कहना हानिकारक हों सकता है क्योंकि जब बच्चे खुद के बारे में इस तरह से negative word सुनते हैं, तो वे खुद के बारे में बुरा feel करते हैं, और फिर उसी के अनुसार काम करते हैं |
  • अपने बच्चे की strength पर focus करिए कि आपका बच्चा किन चीज़ों पर enjoy करता हैं | अगर आप चाहते हैं कि बच्चे में self steem boost हो तो आपको अपने बच्चे की weakness और strength पर focus करना होगा |
मुझे उम्मीद है कि आपको यह article पसंद आएगा | please इस article को share ज़रूर करें |
Hey friends welcome to my blog Care Women's.i am Sabiha Khan from pune, India. i started care women's as a passion. Here at care women's I write about women's health, parenting, self improvement, realationship and beauty tips.

Follow by Email