-->

Care Women's

"loving yourself is the greatest revolution"

Thursday, August 17, 2017

How to stop comparing yourself to others and be happy in Hindi

How to stop comparing yourself to others and be happy in Hindi

यहाँ आपके लिए कुछ test है जो आपके मन में उठने वाले सवालों से related है -
  • क्या आप दूसरों की तुलना में कम अच्छी लगती हैं ?
  • क्या आप दूसरों की तुलना में कम कमाती हैं ?
  • क्या आप सही कपडे नही पहनती हैं ?
  • क्या आप दूसरों की तुलना में कम फिट हैं ?
  • क्या आप गलत बात कहने की चिंता करती हैं ?
आपने देखा जब आप इन सवालों पर विचार कर रही होंगी तो आपको कैसा feel हों रहा होगा |

अगर आप अक्सर दूसरों से तुलना करती हैं तो आप अकेले नही हैं , ऐसे बहुत से लोग हैं जो दूसरे से खुद को compare करते हैं | और खुद को hurt करते हैं |

अगर आप दूसरों से तुलना करके खुद को hurt कर रही है हैं, तो मै  आपसे यही कहूँगी कि please stop comparing yourself to others.

मुझे यकीन है कि खुद को दूसरों से तुलना करने से रोकने का यह विचार आपको new नहीं लग रहा होगा क्योंकि यह आपने हजारों बार सुना होगा | लेकिन मेरी भी एक कोशिश है कि शायद इस article से मै आपके साथ- साथ खुद की भी help कर सकूँ |

Read also: How positive self talk determines your success in Hindi

Comparing yourself to others क्यों बुरा है?

अगर आप बुरा महसूस करना चाहती हैं तो खुद को दुसरे के साथ compare कर लें यह बुरा feel करने के लिए सबसे easy तरीका है | आप देख सकती है कि social media पर , television पर लोग क्या कर रहे हैं और इन लोगो के साथ खुद की तुलना करें | 

आप देखेंगी कि हर कोई आपको कुशल और बेहतर लगेगा | अच्छी जॉब , अच्छा घर अच्छी life यह सब देखकर आप jealous और inferior feel करेंगी | लेकिन यह सब देखकर खुद की तुलना करना आपको negative बनाएगा और आप अपनी life में खुश नही हों पाएंगी | और इस वजह से आप stress और depression में आ  सकती हैं | 

यहाँ यह article इसलिये है कि आप आप अपनी बुरी आदतों को दूर कर अच्छी आदतों को शामिल करें जिससे आपको खुद को दूसरों से तुलना करने की ज़रूरत भी न पड़े |

Comparing करना fail कब होता है ?

How to stop comparing yourself to others के बारे में जानने से पहले हम यह जानने की कोशिश करेंगे कि खुद की दुसरे से तुलना करके अपने आप को बेकार क्यों करते हैं |

1. आप result देखते हैं उनके effort नही 

जब आप दूसरों की success देखती हैं तो आप सिर्फ result देखती हैं आप उस रिजल्ट को पाने के लिए कितने effort लगाये गए है उन पर ध्यान नही देती | और यही वजह है कि आप खुद को hurt करती हैं |

2. आप उनके जैसे नही हैं 

comparing yourself to others से मतलब यह है कि आप जो कुछ भी जानती हैं या आप जो कुछ भी हैं उसे लेकर दूसरों से तुलना करना | लेकिन आप हमेशा चीज़ों के बाहरी रूप को देखती हैं जो अक्सर अच्छी लगती है जिनसे खुद की तुलना कर रही हैं वो अन्दर से कैसा feel कर रहे हैं यह सिर्फ वही जानते हैं | और यही वजह है की आप बाहरी रूप को देखकर खुद को hurt करने लगती हैं |

3. खुद का समय waste करना 

खुद की दूसरों से तुलना करके आप अपना समय बरबाद कर रही हैं | आपके पास समय सीमित है जब आप सुधर के लिए खुच कार्यवाही कर रही हैं तो दुसरे से तुलना करके खुद को क्यों चिंतित कर रही |

4. Comparison आपकी achievement की ख़ुश को मारता है 

जब आप खुद में बदलाव लाने की कोशिश करती हैं और फिर खुद की तुलना दूसरों से करने लगती हैं तो यह comparison आपके बदलाव से आपको मिलने वाली ख़ुशी को कम कर देता है | अगर आप खुद को हमेशा negative होकर तुलना करते रहेंगी तो आप हमेशा पीछे रहेंगी | इसलिये हमेशा खुद को positive रखें |

Read also: 7 ways to motivate yourself in Hindi 

खुद को दूसरों से compare करने से कैसे रोके ?

इस सेक्शन में हम पढेंगे कि कैसे खुद को compare करने से रोके ?

1. अपने position को accept करें 

इससे पहले की आप अपने अंदर कोई real changes लाये आपको यह accept करना होगा कि आप कहा हैं और अपने गति से आगे बढे जहाँ आप खुद को देखना चाहती हैं | आप अपनी तुलना खुद से करें कि कल आप कहाँ थी और आज कहा हैं |

2. आभार व्यक्त करें (express gratitude)

आप उन सभी लोगो को आभार व्यक्त करें जो आपकी life में आपको आंगे बढ़ने के लिए आपका साथ दिए | क्योंकि कोई भी चीज़ किसी के समर्थन के बिना प्राप्त नही होती है | इसके साथ ही खुद को भी आभार व्यक करें और जो achievement हासिल किया है , उसके बारे में सोचने में समय निकाले | क्योंकि अपनी life के अच्छे moments को याद करना आपको ख़ुशी देता है | 

3. Life competition नही है realize करें 

ज़रूरी नही है कि आप अपनी life में सबकुछ हासिल कर सके | कई लोग जो अपनी life के एक पहलु में सफल होते हैं तो दुसरे पहलु में विफल होते हैं | 

Life कोई खेल नही है इसलिये competition करना बंद कर देना चाहिए | दुसरे आपसे आगे हैं या पीछे इस बारे में चिंता करना छोड़ दीजिये |

4. Compare करना है तो खुद से करें 

अगर आप compare करना चाहती हैं, तो खुद से compare करें | आपके अंदर क्या कमी है, उसे दूर करने की कोशिश करें | यहाँ पर खुद से compare करने का मतलब है कि खुद को improve करना न कि खुद को hurt करना | 

Example के लिए अगर आप 6 महीने तक weight loss करने के लिए exercise कर रही हैं, तो आपको खुद से compare करना होगा की आपने कितना  weight loss किया है ? आपके पास कितनी ऊर्जा है ? क्या आप खुश हैं ? ऐसा करने से आप खुद पर focused रहेंगी |

Read also: 5 Tips To Get Inner Peace For Women In Hindi

मुझे उम्मीद है कि इस पोस्ट के माध्यम से आपको यह समझने में help मिली होगी कि खुद को दूसरों से तुलना करने से कैसे रोकें | 





Hey friends welcome to my blog Care Women's.i am Sabiha Khan from pune, India. i started care women's as a passion. Here at care women's I write about women's health, parenting, self improvement, realationship and beauty tips.

Follow by Email